हिंदी करंट अफेयर्स क्विज : 10 अगस्त, 2019

  1. भारत में राष्ट्रीय स्तर पर कितने वर्ष में हाथियों की जनगणना की जाती है?
    भारत में राष्ट्रीय स्तर पर हाथियों की जनगणना प्रत्येक 5 वर्ष में की जाती है| राज्यवार जनगणना के अनुसार 2017 की हाथियों की गणना के आधार पर देश में 29,964 हाथी हैं, 2012 में यह आंकड़ा 29,576 था। दक्षिण क्षेत्र में 14,612 हाथी हैं, जबकि उत्तर-पूर्वी क्षेत्र में 10,139 हाथी हैं। India State of Forest Report 2017 के अनुसार भारत में राष्ट्रीय स्तर पर वन क्षेत्र में 6,778 किलोमीटर की वृद्धि हुई है।
  2. हाल ही में अमेरिका ने किस देश को “करेंसी मैनीपुलेटर” घोषित किया है?
    अमेरिका ने चीन को “करेंसी मैनीपुलेटर” घोषित किया है। इससे अमेरिका और चीन के बीच व्यापारिक तनाव बढ़ने के आसार हैं। चीन ने अपनी मुद्रा युआन के अवमूल्यन को मंज़ूरी दी थी।
  3. हाल ही में “The ScooNews Global Educators Fest (SGEF)” कहाँ पर आयोजित किया गया है?
    The ScooNews Global Educators Fest (SGEF) राजस्थान के उदयपुर में आयोजित किया गया है| यह भारत का सबसे बड़ा ब्रेनस्टोर्मिंग इवेंट है। इसमें 500 से अधिक शिक्षाविद हिस्सा लेंगे। इसका उद्देश्य भारत को वैश्विक शिक्षा पॉवरहाउस के रूप में स्थापित करना है। इस इवेंट का विषय “Education for Sustainability: Moving on from conformity to creativity” रखा गया है।
  4. हाल ही में किस भारतीय क्रिकेटर जुलाई महीने के लिए PCA प्लेयर ऑफ़ द मंथ के लिए चुना गया है?
    भारत के ऑफ स्पिनर रविचंद्रन आश्विन को जुलाई महीने के लिए PCA प्लेयर ऑफ़ द मंथ चुना गया है। इन्हें यह पुरस्कार काउंटी चैंपियनशिप में बेहतरीन प्रदर्शन के लिए दिया गया है। काउंटी चैंपियनशिप में आश्विन ने तीन मैचों में 23 विकेट लिए है।
  5. हाल ही में किस केन्द्रीय मंत्रालय द्वारा IIS अफसरों के द्वितीय अखिल भारतीय सम्मेलन का आयोजन कहाँ किया गया है?
    दिल्ली के प्रवासी भारतीय केंद्र में IIS (भारतीय सूचना सेवा) अफसरों के द्वितीय अखिल भारतीय सम्मेलन का आयोजन किया गया है। इस इवेंट में सरकारी संचार को प्रभावशाली बनाने पर चर्चा की गयी है। इस इवेंट में देश भर से वरिष्ठ सूचना अधिकारी, सूचना व प्रसारण मंत्रालय के अधिकारी, इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ मास कम्युनिकेशन तथा प्रसार भारती के अधिकारियों ने हिस्सा लिया है।
  6. हाल ही में किस भारतीय क्रिकेटर को कार्तिक बोस लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड के लिए चुना गया है?
    पूर्व भारतीय क्रिकेटर तथा बंगाल के कप्तान अरुण लाल को CAB (क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ़ बंगाल) द्वारा कार्तिक बोस लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया गया है। अरुण लाल ने भारत के लिए 1982 से 1989 के बीच 16 टेस्ट मैच तथा 13 अंतर्राष्ट्रीय एकदिवसीय मैच खेले हैं। अरुण लाल को उनके दृढ निश्चयी स्वाभाव के लिए जाना जाता है, उन्होंने कैंसर से लड़ाई जीती है। वे बंगाल के कोच भी रहे हैं। बंगाल के लिए खेलने से पहले उन्होंने 6 सीजन तक दिल्ली के लिए खेला। पिछले सीजन CAB के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने उन्हें बंगाल टीम का मेंटर नियुक्त किया था। 1989 में रणजी ट्राफी में बंगाल की विजय में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका थी। टेस्ट क्रिकेट में उनका उच्चतम स्कोर 93 रन है, यह स्कोर उन्होंने ईडन गार्डन्स (पश्चिम बंगाल) ने वेस्ट इंडीज के विरुद्ध बनाया था। उन्होएँ प्रथम श्रेणी के 156 मैचों में 10,000 से अधिक रन बनाये है।
  7. हाल ही में किस राज्य ने खेल के लिए मिशन शक्ति लांच किया है?
    फिल्म अभिनेता आमिर खान ने महाराष्ट्र सरकार की “मिशन शक्ति” नामक पहल को लांच किया है| इसे लांच करने का उद्देश जनजातीय क्षेत्रों के खिलाड़ियों को अंतर्राष्ट्रीय स्पर्धाओं के लिए प्रशिक्षण प्रदान करना है। इसका उद्देश्य 2024 के ओलिंपिक के लिए जनजातीय छात्रों को तैयार करना है। इस पहल के द्वारा प्रमुख रूप से आर्चरी, निशानेबाजी, वॉलबॉल, तैराकी, भारतोलन तथा जिमनास्टिक्स को बढ़ावा दिया जायेगा।
  8. हाल ही में किस भारतीय महिला पहलवान ने 2019 पोलैंड ओपन कुश्ती प्रतियोगिता में 53 किलोग्राम भारवर्ग में स्वर्ण पदक जीता है?
    भारतीय महिला पहलवान विनेश फोगट ने पोलैंड ओपन रेसलिंग टूर्नामेंट में 53 किलोग्राम भारवर्ग में स्वर्ण पदक जीता है। इन्होंने फाइनल में पोलैंड की रोकसाना को 3-2 से पराजित किया है। यह 53 किलोग्राम भारवर्ग में विनेश फोगट को लगातार तीसरा स्वर्ण पदक है। विनेश फोगट एक महिला पहलवान हैं। इन्होंने 2014 ग्लासगो राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीता था, जबकि 2018 के गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों में उन्होंने 50 किलोग्राम भारवर्ग में स्वर्ण पदक जीता था। 2014 के इनचियोन एशियाई खेलों में उन्होंने 48 किलोग्राम भार वर्ग में कांस्य पदक जीता था। 2018 के जकार्ता एशियाई खेलों में उन्होंने 50 किलोग्राम भारवर्ग में स्वर्ण पदक जीता। वे राष्ट्रमंडल खेलों तथा एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला पहलवान हैं।
  9. हाल ही में किस अन्तरिक्ष एजेंसी ने GJ 357 d नामक ग्रह की खोज की है?
    नासा के TESS मिशन ने GJ 357 d नामक ग्रह की खोज की है। यह ग्रह हमारे सौर मंडल से 31 प्रकाश वर्ष दूर है। इस ग्रह को “सुपर अर्थ” कहा जा रहा है, क्योंकि इस ग्रह पर जीवन की सम्भावना जताई जा रही है। यह ग्रह GJ 357 नामक तारे की परिक्रमा करता है। इसका वायुमंडल घना है, इसकी सतह का तापमान संभवतः 254 डिग्री सेल्सियस है। यह ग्रह अपने तारे से उतनी ही उर्जा प्राप्त कर रहा है जितनी उर्जा मंगल ग्रह सूर्य से प्राप्त करता है। इस ग्रह पर पृथ्वी की भाँती तरल जल होने की सम्भावना जताई जा रही है।
    टेस (Transiting Exoplanet Survey Satellite)
    TESS मिशन का नेतृत्व मेसाचुसेट्स टेक्नोलॉजी संस्थान की कावली इंस्टिट्यूट फॉर एस्ट्रोफिजिक्स एंड स्पेस रिसर्च द्वारा किया जा रहा है। TESS को पृथ्वी के निकट तारे की परिक्रमा करने वाले ग्रहों की खोज के लिए डिजाईन किया गया है। इस प्रकार के ग्रहों की उपस्थिति की जानकारी तब मिल सकेगी जब किसी तारे के सामने ग्रह के गुजरने के कारण तारे की रौशनी कम हो। TESS, अन्तरिक्ष वेधशाला केप्लर का उत्तराधिकारी है। वर्तमान में ज्ञात अधिकतर बाह्य ग्रहों की खोज केप्लर द्वारा की गयी है।
    TESS के प्रमुख उद्देश्य
    TESS 2 वर्ष तक पृथ्वी के निकट सबसे चमकीले तारों का सर्वेक्षण करेगा, यह कई कैमरों की सहायता से पूरे आसमान के चित्र लेगा। बाद में यह ट्रांजिट फोटोमेट्री विधि का उपयोग करके संभावित बाह्य ग्रहों की सूची तैयार करेगा।
    विशेषताएं
    TESS वेधशाला का भार महज़ 362 किलोग्राम है। इसमें चार वृहत दृष्टिकोण युक्त कैमरा लगाये गए हैं। हालांकि TESS में जीवन का पता लगाने के कोई कोई भी उपकरण नहीं लगाया गया है। इसका उद्देश्य केवल संभावित बाह्य ग्रहों की खोज करना है, जिन पर बाद में अन्य टेलिस्कोप कार्य करेंगे।
    TESS बाह्य ग्रहों का पता लगाने के लिए पारगमन विधि (transit method) का उपयोग करेगा। जब किसी चमकीले तारे के सामने से होकर कोई ग्रह गुज़रेगा, तो उस दौरान तारे की रौशनी कुछ कम हो जाएगी। बार-बार इस घटना की पुनरावृत्ति होने पर यह अनुमान लगाया जाता है कि किसी गृह द्वारा उक्त तारे की परिक्रमा की जा रही है। TESS अपने दो वर्ष के मिशन के दौरान लगभग 85% आकाश को स्कैन स्कैन करेगा। प्रथम वर्ष में यह दक्षिणी गोलार्ध को स्कैन करेगा। बाद में यह उत्तरी गोलार्ध में कार्य करेगा।
    TESS का महत्त्व
    TESS के द्वारा एकत्रित किये गए डाटा से छोटे ग्रहों के द्रव्यमान, आकार, घनत्व तथा कक्षा के बारे में जानकारी मिलेगी। इससे यह भी ज्ञात होगा कि गृह पथरीले हैं अथवा गैसीय। केप्लर की अपेक्षा TESS आकाश के बड़े हिस्से को स्कैन करेगा, परन्तु यह ज्यादा दूर तक स्कैन नहीं कर सकता। केप्लर की रेंज 3,000 प्रकाश वर्ष तक थी। जबकि TESS की रेंज मात्र 300 प्रकाश वर्ष ही है।
  10. हाल ही में भारत की पहली 3डी स्मार्ट ट्रैफिक सिग्नल “इंटेलाइट” को किस शहर में लांच किया गया है?
    भारत की पहली 3डी स्मार्ट ट्रैफिक सिग्नल “इंटेलाइट” को चंडीगढ़ में लांच किया गया है। इसका विकास चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के छात्रों ने किया है। इन लाइट को अभी पायलट बेसिस पर स्थापित किया गया है। यह लाइट आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का उपयोग करते हुए सिंगल टाइमर को सेट करती है, जिससे ट्रैफिक जाम की समस्या नहीं होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three × five =

error: Content is protected !!